चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के जवाब में दुनियाभर में निवेश करेगा अमेरिका

सोमवार को अमेरिका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव का मुकाबला करने के लिए अमेरिका ने दुनिया भर में 05 से 10 बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में निवेश करने की योजना बनाई है.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन के उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार दलीप सिंह के प्रतिनिधत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने पिछले सप्ताह सेनेगल और घाना में 10 परियोजनाओं को चिन्हित किया है. जहां जनवरी मे निवेश किया जाएगा. बता दें कि दलीप सिंह के नेतृत्व वाला प्रतिनिधिमंडल इस साल कई देशों का दौरा कर चुका है जिन्हें ‘लिसनिंग टुअर्स’ कहा गया है. अधिकारी ने यह भी जानकारी दी कि दिसंबर में जी-7 की बैठक के दौरान इन योजनाओं को अंतिम रूप दिया जा सकता है.

चीन की बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव योजना, जिसे 2013 में लॉन्च किया गया था, एक रणनीतिक योजना है. इसके माध्यम से चीन एशिया, अफ्रीका और यूरोप को जमीन और समुद्र के रास्ते जोड़ना चाहता है, जिससे व्यापार बढ़ाए जा सके. इसी के जवाब में अमेरिका ने दुनिया भर में 05 से 10 बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में निवेश करने की योजना बनाई है.

आपको बता दें कि इस वक्त अमेरिकी अधिकारी सरकारी और निजी क्षेत्र के नेताओं के साथ बैठक कर रहे हैं क्योंकि उनके द्वारा ऐसी परियोजनाओं की पहचान करने की कोशिश की जा रही है जो अगले साल की शुरुआत तक शुरू हो सकती हैं.

इस संबंध में अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि G7 द्वारा शुरू की गई बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड B3W पहल का उद्देश्य 2035 तक अलग-अलग विकासशील देशों में परियोजनाओं के लिए $40 ट्रिलियन डॉलर उपलब्ध कराना है. जिस से इन देशों को चीन के द्वारा उपलब्ध कराए जाने वाले उधार का एक विकल्प प्रदान किया जा सके.

अमेरिका ने यह भी कहा है कि अपनी योजना में वह ऐसी कोई भी शर्त नहीं रखेगा जिसे तहत बाद में पोर्ट या एयरपोर्ट जब्त किया जा सके. इस वित्तीय मदद के तहत अमेरिका अन्य देशों को इक्विटी स्टेक, लोन गारंटी, राजनीतिक बीमा, ग्रांट, जलवायु, स्वास्थ्य, डिजिटल विकास आदि के तहत मदद उपलब्ध कराएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *